SIWAN EXPRESS NEWS

आपके काम कि हर खबर

जानिए क्या है!भारतीय सेना में “टूर ऑफ ड्यूटी” मैं “अग्निपथ” योजना के तहत नियुक्त “अग्निवीर” का तरीका। साथ ही अगले 18 महीनों में 10 लाख केंद्रीय विभागों में नौकरी।

जानिए क्या है!भारतीय सेना में "टूर ऑफ ड्यूटी" मैं "अग्निपथ" योजना
Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

Insert Your Ads Here

सेंट्रल डेस्क:- केंद्र की प्रधानमंत्री मोदी की अगुवाई वाली सरकार हमेशा से कुछ अलग तरीके की फैसले लेने के लिए जानी जाती है। इसी पर आगे चलते हुए केंद्र सरकार ने आज एक अलग तरह का फैसला लिया। इसमें युवाओं को भारतीय सेना में 4 साल के लिए शॉर्ट सर्विस देने का मौका मिलेगा जिसे “टूर ऑफ ड्यूटी’ का नाम दिया गया है। इस योजना को “अग्निपथ” का नाम दिया गया है।

https://siwanexpress.com/pm-modi-interaction-with-nagaland-women-students3592-2/

अग्नीपथ योजना के तहत भारतीय सेना में भर्ती होने वाले युवाओं को “अग्निवीर” कहा जाएगा। इन युवाओं को सशस्त्र बलों में अग्निपथ योजना के तहत भर्ती होने के लिए पहले से चली आ रही भारतीय सेना के मानक डंडो पर खड़ा उतरना होगा उन्हें पहले की तरह ही फिजिकल टेस्ट और मेडिकल टेस्ट पास करना होगा।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ तीनों सेना प्रमुखों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी दी।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

दरअसल मंगलवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेनाओं के प्रमुख के साथ एक प्रेस कॉन्फ्रेंस किया जिसमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेनाओं में टूर ऑफ ड्यूटी के तहत अग्नीपथ कार्यक्रम को लांच किया जिसके तहत देश के 17.5 से 21 वर्ष के युवा सशस्त्र बलों में भर्ती होकर राष्ट्र की सेवा कर सकेंगे।

भर्ती होने की यह नियम होंगे तथा इतनी मासिक वेतन मान दी जाएगी‌।

सशस्त्र बलों में “अग्नीपथ” योजना के तहत भर्ती होने के लिए पहले की तरह उम्र के साथ, फिजिकल, मेडिकल, टेस्ट पास करने के साथ बुनियादी प्रशिक्षण से गुजरना होगा। इन युवाओं का भारतीय सेना में कुल कार्यकाल 4 वर्षों का होगा जिसमें इनके ट्रेनिंग की अवधि भी शामिल होगी। इन युवाओं को 4 सालों में हर साल के लिए अलग पैकेज के तहत सैलरी दी जाएगी। जिसमें से 30 परसेंट “एकमुश्त सेवा निधि” के लिए काट लिया जाएगा इसके साथ ही भारत सरकार भी इन अग्नि वीरों के “एकमुश्त सेवा निधि” में 30 परसेंट अपना योगदान करेगी।

इतनी सैलरी के साथ रिटायरमेंट पर इतनी रकम मिलेगा

उदाहरण के लिए पहले साल में अग्नि वीरो की मासिक सैलरी ₹30000 होगी जिसमें से सैलरी का 30 परसेंट यानी ₹9000 “एकमुश्त सेवा निधि” के लिए काट लिया जाएगा इसके साथ ही भारत सरकार भी ₹9000 अपनी तरफ से “एकमुश्त सेवा निधि” के लिए योगदान करेगी पहले साल के लिए अग्नि वीरों की सैलरी ₹21000 प्रति महीना दी जाएगी। इसी तरह दूसरे वर्ष के लिए अग्नि वीरों की सैलरी 30 परसेंट “एकमुश्त सेवा निधि” के लिए कटने के बाद ₹23100 मासिक ,तीसरे साल के लिए ₹25580 मासिक तथा चौथे साल के लिए ₹28000 मासिक होगी।

अग्नि वीरों के सैलरी और एकमुश्त सेवा निधि का विवरण
अग्नि वीरों के सैलरी और एकमुश्त सेवा निधि का विवरण

इतनी रकम रिटायरमेंट के बाद”एकमुश्त सेवा निधि” के तहत मिलेगा

4 साल की कार्य अवधि पूरी होने पर ‘अग्निवीर’ को “एकमुश्त सेवानिधि” पैकेज के रूप में दिया जाएगा जो कि लगभग 11 लाख 71 हजार होगा। जोकि आयकर से मुक्त होगा। ग्रेच्युटी और पेंशन लाभ का कोई अधिकार नहीं होगा। साथ ही इनमें से लगभग 25 परसेंट अग्नि वीरों को आगे की सेवा के लिए विस्तारित कर दिया जाएगा जिनको कि कम से कम 15 साल की सेवा देनी होगी यह उनके 4 साल के कार्यकाल के परफॉर्मेंस के आधार पर होगा।

4 साल की सेवा अवधि काल के के बाद जैसे ही अग्निवीर रिटायर होंगे तो उनकी उम्र 21 साल होगी। जिससे कि वह आगे के लिए दूसरी नौकरी करने के योग्य होंगे। सरकार के इस योजना से लगभग हर साल 46000 युवाओं को रोजगार मिलेगा अगर उन्हें भारतीय सेना में अपना योगदान देने के साथ राष्ट्र की सेवा करने का मौका भी मिलेगा।

भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी, अतिरिक्त सचिव, सैन्य मामलों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में निम्न बातें कही।

भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी, अतिरिक्त सचिव, सैन्य मामलों ने अग्नीपथ योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि हम युवाओं को अग्निवीर के रूप में छोटी और लंबी अवधि के लिए राष्ट्र की सेवा करने का अवसर प्रदान करेंगे हम युवाओं को लंबी और छोटी होगी के लिए सशस्त्र बलों में सेवा का मौका दे रहे हैं। आज युवाओं औसत आयु लगभग 32 वर्ष है आने वाले समय में और कम होकर 26 वर्ष हो जाएगी‌। यह आने वाले 6-7 सालों में होगा। सशस्त्र बलों को युवाओं को तकनीकी प्रेमी आधुनिकता में बदलने के लिए उनकी क्षमताओं को निखारने और उन्हें भविष्य के लिए तैयार सैनिक बनाने की आवश्यकता है।

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी, अतिरिक्त सचिव, सैन्य मामलों
लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी, अतिरिक्त सचिव, सैन्य मामलों

अग्निवीर भारत के युवा रक्षक होंगे। 4 साल हमारे साथ रहने के बाद एक अग्निवीर का बायोडाटा बहुत ही अनोखा होगा वह अपने रवैया कौशल और हमारे साथ बिताए समय के साथ भीड़ में अलग दिखेंगे।

पूर्व एयर चीफ मार्शल ने इसे परिवर्तनकारी कदम बताया

पूर्व एयर चीफ एयर चीफ मार्शल (सेवानिवृत्त) राकेश कुमार सिंह भदौरिया कहते हैं ,अग्निपथ योजना एक बहुत बड़ी परिवर्तनकारी योजना है और यह आने वाले समय में रक्षा सेवाओं और राष्ट्र के लिए फायदेमंद होगी।

अग्नीपथ योजना के अलावा अगले डेढ़ सालों में केंद्र सरकार सरकारी विभागों में 10 लाख नौकरियां देगी।

अगले 18 महीने में केंद्रीय मंत्रालय में 10 लाख नौकरी
अगले 18 महीने में केंद्रीय मंत्रालय में 10 लाख नौकरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को एक और धमाकेदार फैसला लेकर सनसनी मचा दी। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने क्रांतिकारी फैसलों के लिए जाने जाते हैं। इसी में कदम आगे बढ़ते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को अपने विभाग के मंत्रियों अधिकारियों को यह निर्देश दिया कि विभाग में खाली पड़े 10 लाख पदों का अगले 18 महीनों के अंदर भरा जाए। यानी कि जिन विभागों में पद खाली हैं ,उन्हें अगले 18 महीनों में पूरी तरीके से भरा जाएगा। प्रधानमंत्री की इस फैसले से लगभग 10 लाख लोगों को अगले 18 महीने में नौकरी मिलेगी इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी विभागों के मंत्रियों और अधिकारियों को निर्देश दे दिया है।

 

Insert Your Ads Here

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED