SIWAN EXPRESS NEWS

आपके काम कि हर खबर

||

Defence Exports: भारत की HAL कंपनी को मिला 84 हजार करोड़ का ऑर्डर, 50 हजार करोड़ पर जल्द दी जाएगी सहमति, HAL द्वारा पेश किए गए आंकड़े

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

Insert Your Ads Here

Defence Exports: भारत की HAL कंपनी को मिला 84 हजार करोड़ का ऑर्डर, 50 हजार करोड़ पर जल्द दी जाएगी सहमति, HAL द्वारा पेश किए गए आंकड़े

Defence Exports: भारत बड़े लंबे समय तक हथियारों का प्रमुख आयातक देश रहा है लेकिन अब वह बड़ी ही तेजी से रक्षा के। क्षेत्र में एक निर्यातक के रूप में अपनी भूमिका को निखार रहा है। देश की सरकारी कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) को 84 हजार करोड़ रुपये का ऑर्डर मिला हैं। वहीं, 50 हजार करोड़ रूपये तक के दूसरे ऑर्डर पाइपलाइन में हैं।

https://siwanexpress.com/bihar-horrific-accident-happened-late-night-pappu-yadav/

HAL के चेयरमैन व डायरेक्टर जनरल सीबी अनंतकृष्णन द्वारा मंगलवार को बंगलूरू में जारी एयरो इंडिया 2023 में यह आंकड़े पेश किए गए हैं। साथ ही जानकारी देते हुए कहा कि HAL के स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान (LCA) तेजस को भी खरीदने में कई देशों द्वारा रुचि दिखाई गई है और इस बारे में बातचीत भी चल रही है।

सैन्य विमानों के वैश्विक बाजार में HAL ने जगाई रुचि

HAL के चेयरमैन व डायरेक्टर जनरल सीबी अनंतकृष्णन ने कहा कि HAL द्वारा अब तक खरीदे हुए अनुबंधों और पाइपलाइन में मौजूद ऑर्डर, दोनों के ही लिहाज से अच्छी स्थिति में है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाए गए आत्मनिर्भर भारत अभियान के विजन से HAL को बहुत फायदा हुआ है। सैन्य विमानों के वैश्विक बाजार में HAL द्वारा काफी रुचि जगाई गई है और भविष्य में इससे बड़े ऑर्डर नजर आएंगे। HAL के डायरेक्टर (ऑपरेशंस) जयदेव ईपी ने जानकारी देते हुए बताया कि HAL का टारगेट है कि अगले कुछ वर्षों में निर्यात 2.5 लाख करोड़ तक पहुंच सके।

ये बहुत ही अच्छा है की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले दो वर्ष में रक्षा निर्यात तीन गुना अधिक बढ़ाने का लक्ष्य रखा है। तेजस के निर्यात के लिए भी सरकार कूटनीतिक प्रयास करने में लगी हुई है।

भारत द्वारा तेजस लड़ाकू विमान चार देशों को बेचा जाएगा

अनंतकृष्णन ने जानकारी देते हुए कहा कि अर्जेंटीना द्वारा 15 और मिस्र द्वारा 20 तेजस विमान को खरीदने में रुचि दिखाई गई है। इसके अलावा, बोत्सवाना और मलयेशिया से भी तेजस की खरीद को लेकर बातें चल रही है। इसके आगे, उन्होंने कहा कि जल्द ही हम इन देशों को भारत द्वारा निर्मित किए गए विमान को देंगे। भारत आने वाले कुछ वर्षों में रक्षा क्षेत्र के निर्यात में भी सबसे आगे होगा। उन्होंने जानकारी दी कि HAL द्वारा अपने हल्के लड़ाकू हेलिकॉप्टर को बेचने के लिए फिलीपींस के साथ भी बातचीत की जा रही है।

सेना को HAL से मिले 83 तेजस

साल 2021 में भारत सरकार ने एचएएल से 83 तेजस विमानों की खरीद के लिए 600 करोड़ डॉलर का अनुबंध किया था। इनकी डिलीवरी 2023 से शुरू होगी। तेजस का निर्माण डिजाइन के स्तर पर 1983 में शुरू हुआ था। एचएएल की योजना है कि आने वाले समय में इसमें जनरल इलेक्ट्रिक कंपनी का बनाया 414 इंजन का उपयोग किया जाए। यह दूसरी पीढ़ी का तेजस ज्यादा क्षमतावान होगा। 414 इंजन भारत में बनाने पर भी बातचीत हो रही है।

Defence Exports: भारत की HAL कंपनी को मिला 84 हजार करोड़ का ऑर्डर, 50 हजार करोड़ पर जल्द दी जाएगी सहमति, HAL द्वारा पेश किए गए आंकड़े
HAL कंपनी को मिला 84 हजार करोड़ का ऑर्डर

जीई मरीन के साथ एमओयू

एचएएल ने जीई मरीन कंपनी के साथ मंगलवार को एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए। इसके तहत एलएम500 मरीन गैस टर्बाइन की असेंबली, निरीक्षण व परीक्षण (एआईटी) के लिए एचएएल की विनिर्माण क्षमता के विस्तार की संभावना देखी जाएगी। MOU पर जारी बयान के अनुसार, HAL का IMGT मंडल साल 1986 से जीई के LM 2500 मरीन गैस टर्बाइन को AIT प्रदान कर रहा है। यह टर्बाइन भारतीय नौसेना के P-17, P-17A और IAC-1 जलपोतों में उपयोग हो रही है।

11 भारतीय जहाजों के लिए AC 22 टर्बाइन तैयार की

अब तक HAL ने 11 भारतीय जहाजों के लिए ऐसी 22 टर्बाइन तैयार की हैं। MOU में इस टर्बाइन के स्वदेशी 4 मेगावाट गैस टर्बाइन जनरेट में उपयोग के लिए HAL को AIT की अनुमति दी जाएगी। यह टर्बाइन जनरेटर भारत के भावी जहाजों में लगाए जाएंगे। 3 फरवरी, 2021 को इसे पहली बार एयरो इंडिया 2021 में भेजा गया था

SSC CGL TIER 2 EXAM DATE

अमेरिकी बमवर्षक ‘बी-1बी लांसर’ का जलवा

भारत और अमेरिका के बीच गहरे सामरिक संबंधों को प्रदर्शित करते हुए अमेरिकी वायुसेना के दो ‘B-1B लांसर’ बॉम्बर विमान यहां येलहांका वायुसेना अड्डे पर एयरो शो में शामिल हुए। B-1B लांसर अमेरिका स्थित अपने अड्डों और अग्रिम मोर्चों से विश्वभर में मिशन को अंजाम देने में सक्षम है।

HAL द्वारा लड़ाकू विमान से हटाई गई हनुमान जी की तस्वीर

HAL द्वारा एयर शो में प्रदर्शित HLFT-42 विमान के मॉडल से हनुमान जी की तस्वीर हटा दी गई है। अनंतकृष्णन ने कहा कि इस तस्वीर को न किसी इरादे से लगाई गई थी, न ही किसी इरादे से इसे हटाया गया है। ये फैसला आंतरिक बैठक में लिया गया है।

Insert Your Ads Here

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED

Skip to content