SIWAN EXPRESS NEWS

आपके काम कि हर खबर

||

नक्सलियों के इलाके में लगी अफीम की अवैध फसल हुई नष्ट, 46 एकड़ में लगी थी फसल; डंप हथियार भी हुआ बरामद, संयुक्त ऑपरेशन में मिली बड़ी सफलता

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

Insert Your Ads Here

नक्सलियों के इलाके में लगी अफीम की अवैध फसल हुई नष्ट, 46 एकड़ में लगी थी फसल; डंप हथियार भी हुआ बरामद, संयुक्त ऑपरेशन में मिली बड़ी सफलता।

हाइलाइट

  • गया और औरंगाबाद के नक्सल प्रभावित इलाकों में अफीम की खेती को किया गया नष्ट।
  • विशेष अभियान के दौरान करीब 46 एकड़ में अफीम की फसल को नष्ट किया गया।
  • 3000  चक्र से भी ज्यादा बरामद की गई गोलियां।
  • प्रत्येक वर्ष बढ़ता जा रहा विनिष्टीकरण

https://siwanexpress.com/parliament-session-railways-earned-more-than-600-crores/

विस्तार

पटना:  गया और औरंगाबाद के नक्सल प्रभावित इलाकों में चोरी-छिपे की जा रही अफीम की खेती। बिहार पुलिस और केंद्रीय बलों द्वारा गया और औरंगाबाद के जंगली, पहाड़ी व दुर्गम इलाकों में चलाए गए विशेष अभियान में तकरीबन 46 एकड़ में अफीम की फसल को नष्ट किया गया है।

इस मामले में शामिल राजेंद्र भोक्ता की गिरफ्तारी भी की गई है। वहीं, संयुक्त ऑपरेशन के दौरान बड़ी मात्रा में नक्सलियों द्वारा छिपाए गए डंप हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किए गए हैं।

नक्सलियों के इलाके में लगी अफीम की अवैध फसल हुई नष्ट, 46 एकड़ में लगी थी फसल; डंप हथियार भी हुआ बरामद, संयुक्त ऑपरेशन में मिली बड़ी सफलता
नक्सली इलाके में लगी अफीम की अवैध फसल

41 एकड़ में फैले अफीम की फसल को किया गया नष्ट

पुलिस हेडक्वार्टर के ADG जितेंद्र सिंह गंगवार ने जानकारी देते हुए कहा कि 6 और 7 फरवरी को औरंगाबाद के ढिबरा थाने से 14 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम के जंगलों में छुछिया, ढाभी तथा महुआन में तकरीबन पांच एकड़ की जमीन में अवैध अफीम की फसल को बरबाद किया गया है। ये सभी इलाके पहाड़ी और जंगल से घिरे हैं और नक्सलियों से प्रभावित हैं।

इसके अलावा गया के बाराचट्टी थाने से 20 किलोमीटर दक्षिण- पूरब झारखंड के जंगली एवं पहाड़ी बॉर्डर क्षेत्र सिरिसिया तरी और आसपास में 41 एकड़ जमीन में फैले अफीम की फसल को नष्ट कििया गया है। यह इलाके भी नक्सलियों द्वारा अपने छिपने के रूप में इस्तेमाल किया जाता हैं।

3000  चक्र से भी ज्यादा बरामद की गई गोलियां

पुलिस मुख्यालय द्वारा दी गई रिपोर्ट के मुताबिक, 6 और 7 फरवरी को गया और औरंगाबाद में पुलिस और केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों द्वारा चलाए गए संयुक्त अभियान में नक्सलियों द्वारा 3,000 चक्र गोलियों समेत बड़ी संख्या में छिपाए गए डंप हथियार बरामद किए गए हैं। वहीं, गया के बांके बाजार थाना क्षेत्र के डुमरी और सिमरी में पुलिस बालों द्वारा चलाए गए संयुक्त अभियान में 3 राइफल व मैगजीन और तकरीबन 1,008 चक्र गोलियां बरामद की गई हैं।

https://sarkaridada.com/2023/02/11/nou-intermediate-part-i-counselling-class-2023/

संयुक्त अभियान में बरामद की गई चीजें

7.62 एसएलआर की 442 चक्र

5.66 इंसास की 40 चक्र

.315 की 316 चक्र

.303 की 210 चक्र  गोलियां शामिल हैं।

इसके अलावा औरंगाबाद के मदनपुर थाना क्षेत्र के पचरुखिया, लड़ुइया पहाड़ शिकारी कुआं और इसके आस-पास के इलाकों में औरंगाबाद पुलिस, STF और अन्य केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों के संयुक्त सर्च अभियान में बरामद की गई गोलियां।

7.62 एसएलआर की 1011 चक्र

5.56 इंसास की 1168 चक्र गोलियां बरामद की गई हैं।

साथ ही, 12 kg का एक IED भी जब्त किया गया है।

प्रत्येक वर्ष बढ़ता जा रहा विनिष्टीकरण

वर्षअफीम की खेती

2018-19252.11 एकड़

2019-20470.62 एकड़

2020-21584.30 एकड़

2021-22620.59 एकड़

https://sarkaridada.com/2023/02/11/nou-certificate-course-counselling-class-2023/

गया और औरंगाबाद में बिहार पुलिस और केंद्रीय बलों द्वारा चलाए गए एक संयुक्त अभियान में कई एकड़ में की गई अफीम की फसल को नष्ट किया गया है। वर्तमान का मौसम अफीम के मौसम की शुरुआत है। नशीले पदार्थों के खिलाफ चलाए गए विशेष अभियान लगातार जारी रहेगा। – जितेंद्र सिंह गंगवार, ADG, पुलिस मुख्यालय

Insert Your Ads Here

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED

Skip to content