जानिए कहां हुआ लाकडाउन।क्या खुला ? क्या बंद हैं।

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

न्यूज़ डेस्क:- महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री द्वारा कई प्रतिबंधों और एसओपी की घोषणा की गई ,उन्होंने इस घोषणा को जारी करते हुए यह भी कहा कि लगाया गया अंकुश राज्य की भलाई के लिए है और पूर्ण लॉकडाउन नहीं है।

कोरोनोवायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को राज्य भर में धारा 144 लगा दी। अगले 15 दिनों के लिए कल रात 8 बजे से पूरे राज्य में धारा 144 लागू की जाएगी।

मुख्यमंत्री द्वारा कई प्रतिबंधों और एसओपी की घोषणा की गई, जिन्होंने यह भी कहा कि लगाया गया अंकुश राज्य की भलाई के लिए है और पूर्ण लॉकडाउन नहीं है। इस दौरान प्रतिदिन सुबह 7 से 8 बजे के बीच आपातकालीन सेवाएं खुली रहेंगी।

महाराष्ट्र में क्या खुला है और क्या नहीं, इसकी एक सूची इस प्रकार है:

क्या खुला है?

केवल आवश्यक सेवाओं के लिए लोकल ट्रेन और बस सेवाएं, पेट्रोल पंप, सेबी से जुड़े वित्तीय संस्थान, निर्माण कार्य, टेक-वे और, घरेलू सामान।

इसके अलावा अस्पताल, बीमा, मेडिकल स्टोर, दवा विक्रेता, वैक्सीन निर्माता, ट्रांसपोर्टर, मुखौटा निर्माता, पशुपालन से संबंधित, पशु चिकित्सक, ऑटो, वाणिज्य दूतावास, प्री-मानसून कार्य, सेबी, टेलीफोन सेवाएं, ई-कॉमर्स सेवाएं, मीडिया, सूचान प्रौद्योगिकी सेवाएं।

बंद क्या है?

होटल और रेस्तरां बंद रहेंगे। आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी प्रतिष्ठान, सार्वजनिक स्थान बंद रहेंगे। इसके अतिरिक्त, कल से सड़क के किनारे बने खाने के स्टालों पर कोई भी खड़ा होकर भोजन नहीं करेगा।

वैध कारणों के बिना सार्वजनिक स्थान पर कोई एकत्रित नहीं होगा।

खबर एक नजर में।

➡महाराष्ट्र में 15 दिन लॉकडाउन जैसे प्रतिबंध

➡महाराष्ट्र में जरूरी सेवाओं को छोड़कर सब बंद

➡महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे का बयान:-

➡अत्यावश्यक सेवाओं के कर्मियों को दफ्तर आना है

➡मान्यता प्राप्त पत्रकारों को आवाजाही की छूट

➡निजी वाहनों का उपयोग प्रतिबंधित
➡शिवभोजन थाली एक महीने तक मुफ्त

➡मजदूरों, अधिकृत फेरीवीलों की मदद करेंगे

➡15-15 सौ रूपए की मदद दी जाएगी

➡रिक्शाचालकों को भी 1500 की आर्थिक मदद

➡राशन कार्ड धारकों को 3 महीने तक राशन मुक्त

➡आदिवासी समाज को 2,000 रुपये की आर्थिक
मदद

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED