SIWAN EXPRESS NEWS

आपके काम कि हर खबर

Operation Kaveri: सूडान में भयंकर गृहयुद्ध के बीच फंसे भारतीयों को निकालने के लिए शुरू हुआ ‘ऑपरेशन कावेरी’, अभी पहला ग्रुप हुआ रवाना

(फोटो Twitter/@DrSJaishankar)
Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

Insert Your Ads Here

Operation Kaveri: सूडान में भयंकर गृहयुद्ध के बीच फंसे भारतीयों को निकालने के लिए शुरू हुआ ‘ऑपरेशन कावेरी’, अभी पहला ग्रुप हुआ रवाना

सार

  • सूडान में सेना और अर्धसैनिक बलों के बीच लड़ाई के कारण हिंसा का बना माहौल।
  • सूडान सेना अन्य देशों के नागरिकों को सुरक्षित देश से बाहर भेजने को तैयार।
  • भारत सरकार द्वारा ऑपरेशन कावेरी की हुई शुरुआत।
  • आज INS सुमेधा के जरिए 278 लोगों के साथ सूडान से जेद्दा के लिए निकला।
  • इस समय तकरीबन तीन हजार भारतीय नागरिक सूडान में फंसे।

IPL 2023: CSK ने खेली अब तक सबसे बड़ी पारी, बनाया सबसे बड़ा स्कोर

विस्तार

ऑपरेशन कावेरी: सूडान में चल रहे भयंकर गृहयुद्ध के बीच जहां एक ओर सूडान सेना अन्य देशों के नागरिकों को सुरक्षित देश से बाहर भेजने को तैयार हो गई है।

वहीं, दूसरी ओर भारत सरकार द्वारा ऑपरेशन कावेरी चलाया जा रहा है।जिसके जरिए वहां फंसे भारतीय नागरिकों को वहां से बाहर निकालने का जिम्मा उठाया गया है। इसी सीक्वेंस में आज वहां फंसे भारतीयों का पहला ग्रुप सूडान से रवाना हुआ। आज INS सुमेधा की मदद से 278 लोगों के साथ सूडान के पोर्ट सूडान से जेद्दा के लिए निकल चूका है।

इस विषय पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने जानकारी दी और कहा कि, ऑपरेशन कावेरी के जरिए आज केंद्र सरकार ने INS सुमेधा की मदद से 278 लोगों को सूडान से जेद्दा की ओर रवाना किया है।

केंद्र सारकार द्वारा कहा गया कि, “हम सूडान में अपने सभी भाइयों की सहायता करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।” जानकारी के लिए बता दें कि, इस समय तकरीबन तीन हजार भारतीय नागरिक सूडान में फंसे हुए है।

Operation Kaveri: सूडान में भयंकर गृहयुद्ध के बीच फंसे भारतीयों को निकालने के लिए शुरू हुआ 'ऑपरेशन कावेरी', अभी पहला ग्रुप हुआ रवाना
ऑपरेशन कावेरी

सूडान में हिंसा

  • सूडान में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा को लेकर पीएम मोदी ने एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की थी।
  • ये बैठक शुक्रवार को की गई थी।
  • इस समय सूडान में सेना और अर्धसैनिक बलों के बीच लड़ाई के कारण हिंसा का माहौल बन गया है।
  • 72 घंटे के संघर्ष विराम के बीच अब हिंसा की खबरें सामने आ रही हैं।
  • सूडानी सशस्त्र बल और अर्धसैनिक रैपिड सपोर्ट फोर्स के बीच हुई 15 अप्रैल को हिंसक झड़प नॉन स्टॉप जारी हैं।
  • सूडान के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इस हिंसा में तकरीबन 424 लोगों की मौत की खबर है।
  • वहीं, तकरीबन 3,730 लोगों के घायल होने की खबर हैं।
(फोटो Twitter/@DrSJaishankar)
(फोटो Twitter/@DrSJaishankar)

डॉ. एस जयशंकर ने ट्वीट कर कहा

डॉ. एस जयशंकर ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा कि ऑपरेशन कावेरी सूडान में फंसे हमारे नागरिकों को वापस लाने के लिए चलाया जा रहा है। ऑपरेशन कावेरी के तहत 500 भारतीय सूडान के पोर्ट पर पहुंच गए हैं और बाकियों को भी सुरक्षित स्थान पर लाने की तैयारी की जा रही है, ताकि वहां से उन्हें जल्द से जल्द सुरक्षित भारत लाया जा सके। हमारे जहाज और विमान उन्हें घर वापस लाने के लिए तैयार हैं। मालूम हो कि भारत के साथ-साथ अन्य देश भी सूडान से फंसे अपने नागरिकों को निकाल रहे हैं।

Insert Your Ads Here

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED

Skip to content