भारतीय रेलवे ने आरआरबी परीक्षा 2020 संबंधित गाइडलाइन जारी किया। इतने दिन पहले जारी होगा कॉल लेटर।कोरोना गाइडलाइन। यहां होगी परीक्षा।

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

न्यूज गैलरी:-आखिरकार बहुत लंबे इंतजार के बाद इंतजार की वह घड़ी समाप्त हो ही गई।जिसका इस देश के करोड़ों बेरोजगार युवकों को इंतजार था। जी हां भारतीय रेलवे अपनेेेे 21 रेलवे भर्ती बोर्डों (आरआरबी) के माध्यम से पूरेेे देश तीन बड़ेे चरणों देश की सबसे बड़ी भर्ती के लिए आयोजन करने जा रहा है।

सीबीटी के माध्यम से होगा टेस्ट

इस भर्ती में सीबीटी यानी कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट का आयोजन कियाा जाएगा। इसकेे लिए भारतीय रेलवे ने बड़े पैमाने पर तैयारी की है।क्योंकि यह भर्ती कोरोना की वजह से रोक दी गई थी इसलिए इस भर्ती में कोरोना से संबंधित गाइडलाइन का ख्याल रखा जाएगा।

यह भर्ती दिसंबर 15,2020 से शुरू होकर जून 2021 तक चलेगा।लगभग एक लाख 40 हजार रिक्त पदों को भरने के लिए आयोजित किये जाने वाले इस मेगा भर्ती में 2 करोड़ 44 लाख से अधिक उम्मीदवार देश के विभिन्न शहरों में परीक्षा में शामिल होंगे। परीक्षा आयोजित करने की तैयारी भारतीय रेलवे जोरों पर है।

सीईएन(केंद्रीय रोजगार सूचना) 03/2019 के लिए परीक्षा का पहला चरण 15-18 दिसंबर 2020 तक चलेगा तथा केंद्रीय रोजगार सूचना 01/2019 (एनटीपीसी) की परीक्षा दिसंबर 28 से शुरू होकर संभवतः मार्च, 2021 तक चलेगी। सीईएन नंबर आरआरसी – 01/2019 (स्तर -1) के लिए तीसरी भर्ती परीक्षा संभवतः अप्रैल, 2020 से जून, 2021 के अंत तक आयोजित की जायेगी।
पंद्रह दिसंबर से शुरू होने वाले सीईएन(केंद्रीय रोजगार सूचना)03/2019 (पृथक और मंत्रिस्तरीय) के लिए उम्मीदवारों को ईमेल और एसएमएस के माध्यम से व्यक्तिगत तौर पर और आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइटों पर उपलब्ध कराए गए लिंक के जरिए परीक्षा केंद्र का शहर, तिथि और परीक्षा की पाली के बारे में सूचित किया जाएगा।
4 दिन पहले डाउनलोड कर सकेंगे एडमिट कार्ड
ई-कॉल पत्र को डाउनलोड करने के लिए सभी अभ्यर्थी आरआरबी के आधिकारिक वेबसाइट से निर्धारित परीक्षा से चार दिन पहले डाउनलोड कर सकेंगे।
गृह राज्य में ही होगी परीक्षा
रेलवे ने बड़े व्यापक स्तर पर इस परीक्षा के आयोजन में इस बात का ध्यान रखा है कि अभ्यर्थियों को उनके ही राज्य में उनका परीक्षा दिलाया जा सके ताकि अभ्यर्थियों को परीक्षा स्थल तक पहुंचने के लिए एक रात से ज्यादा का सफर तय ना करना पड़े।रेलवे द्वारा महिला और पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों को उनके ही राज्य में परीक्षा देने की व्यवस्था की गई है। हालांकि रेलवे ने कहां है कि रेलवे जहां भी आवश्यक समझेगा और जहां संभव है वहां अभ्यर्थियों की आवश्यकता को देखते हुए रेलवे विशेष परीक्षा ट्रेनों का परिचालन भी करेगा।
कोरोना से संबंधित गाइडलाइन का पालन अनिवार्य
थर्मो गन के माध्यम से परीक्षा के मुख्य प्रवेश द्वार पर ही सभी अभ्यर्थियों की तापमान की जांच की जाएगी। कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए निर्धारित सीमा से अधिक तापमान वाले उम्मीदवारों को परीक्षा स्थल में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। ऐसे उम्मीदवारों क्या परीक्षा दोबारा लिया जाएगा इससे संबंधित सूचना उनको उनके पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल पर भेज दी जाएगी।
सभी अभ्यर्थियों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा अभ्यर्थियों को प्रवेश द्वार पर ही कोविड-19  स्व-घोषणा पत्र भरकर देना होगा। ऐसा करना अनिवार्य होगा अनंता परीक्षा स्थल में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा। प्रवेश द्वार से परीक्षा स्थल तक कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार सामाजिक दूरी का पालन करते हुए जाना अनिवार्य होगा।
परीक्षा केंद्र सैनिटाइजर किए जाएंगे
परीक्षा केंद्रों पर एक दिन में सिर्फ दो पाली की परीक्षा आयोजित की जाए यह सुनिश्चित किया गया है तथा प्रत्येक पाली के बीच परीक्षाा केंद्रों को सेनीटाइज करने की व्यवस्था की गई है। तथा कोरोना महामारी से संबंधित स्थानीय प्रशासन या राज्य सरकाार की जो भी गाइडलाइन होगे उसेेेे पालन करना सुनिश्चित किया जाएगा।
पीयूष गोयल ने इस मेगा भर्ती के लिए ट्वीट करके अभ्यर्थियों को अपनी तरफ से शुभकामनाएं दी है।

 

सिवान एक्सप्रेस न्यूज़ की तरफ से हुई सभी अभ्यर्थियों को शुभकामनाएं।

FOLLOW US

POPULAR NOW