SIWAN EXPRESS NEWS

आपके काम कि हर खबर

बिहार के सीतामढ़ी में उदयपुर अमरावती जैसी घटना।नूपुर शर्मा का वीडियो देख रहे युवक को चाकू घोंप कर हत्या की कोशिश।

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

Insert Your Ads Here

न्यूज डेस्क: कुछ दिन पहले बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के एक टीवी शो में दिए गए एक आपत्तिजनक बयान जो पैगंबर मोहम्मद साहब के ऊपर था, वजह से पूरे देश में हो हंगामा मचा रहा पूरे देश में काफी जगह धरने प्रदर्शन एवं विरोध हुआ उनके बयान का। नूपुर शर्मा के बयान से मुझे हो हल्ला और विरोध प्रदर्शनों ने हिंसक रूप ले लिया जो कि सरासर गलत था।

https://siwanexpress.com/rupay-card-vs-master-visa-card-rupay-card-history3640-2/

नूपुर शर्मा के बयान पर विरोध प्रदर्शन

नूपुर शर्मा के बयान से मच्छी विरोध प्रदर्शनों की आड़ में इस्लामिक कट्टरपंथियों ने खूब फायदा उठाया। इसके फलस्वरूप इस्लामिक कट्टरपंथियों ने उदयपुर में एक ट्रेलर की चाकू से गोद गोद कर हत्या कर दी। इन कट्टरपंथियों के हिम्मत तो देखिए इन्होंने इस घटना को बतौर रिकॉर्डिंग करके सोशल मीडिया पर अपडेट भी कर दिया इसके बाद उक्त कथन पंथी देश छोड़ने के फिराक में थे अल्लाह की कि उनके इस मंसूबे मंसूबों पर पानी फिर गया और राजस्थान पुलिस ने उनको पकड़ लिया।

राजस्थान पुलिस और सरकार पर उठे सवाल

इस घटना के बाद बच्चे हो हल्ला और बवाल में राजस्थान पुलिस और राजस्थान सरकार पर भी कई सवाल उठे क्योंकि इस्लामिक कट्टरपंथियों ने उक्त घटना को अंजाम देने से पहले फेसबुक लाइव के जरिए पहले ही बता दिया था कि वह इस घटना को अंजाम देने वाले हैं इसके बावजूद भी राजस्थान पुलिस सचेत नहीं रही और इसका अंजाम कन्हैयालाल हिंदु टेलर को अपनी जान देकर भुगतान करना पड़ा।

कन्हैया लाल की गलती सिर्फ इतनी थी कि उनके मोबाइल में उनके बेटे द्वारा गलती से नूपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट हो गया इसके बाद जन्मे इस विवाद में कन्हैया लाल की हत्या कर दी गई हालांकि की कन्हैया लाल ने उक्त पोस्ट को कट्टरपंथियों के विरोध के बाद तुरंत डिलीट कर दिया था और माफी मांग लिया था।

महाराष्ट्र के अमरावती की घटना।

ऐसी ही एक घटना महाराष्ट्र के अमरावती में भी देखने को मिली जहां भी एक व्यक्ति को की हत्या सिर्फ इसलिए कर दी गई क्योंकि उन्होंने भी नूपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट किया था हत्या करने वालों की साजिश में उनका दोस्त और करीबी ही था इस घटना की वीडियो सीसीटीवी फुटेज में मिली जिसके बाद कार्रवाई की गई हालांकि पहले महाराष्ट्र पुलिस ने घटना को छीना झपटी बनाकर बंद कर दिया था लेकिन बाद में महाराष्ट्र में सरकार बदलने के बाद उक्त घटना की जांच कराई गई और तब पता चला कि घटना को अंजाम देने के पीछे का कारण छीना झपटी नहीं कट्टरपंथियों की कट्टरपंथी सोच है।

बिहार के सीतामढ़ी की घटना

ताजा तरीन मामला बिहार के सीतामढ़ी से आया है जिसमें एक युवक को बीच बाजार में सरेआम चाकू से गोद गोद कर हत्या करने की कोशिश की गई। दरअसल बिहार के सीतामढ़ी से आया एक वीडियो सबको हैरान कर देने वाला है जिसमें एक युवक को दौड़ा-दौड़ा के बीच बाजार में चाकू भोपा जा रहा हैं।यह वीडियो काफी वायरल हो रहा है।

मामला क्या है? क्यों युवक को चाकू घोंप कर हत्या करने की कोशिश की गई?

सीतामढ़ी के इस घटना के समय उपस्थित प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि अंकित जान नाम का एक युवक जिसकी उम्र 23 वर्ष है सीतामढ़ी शहर में एक पान की दुकान पर खड़ा था और वही वह नूपुर शर्मा का वीडियो अपने मोबाइल पर देख रहा था वहीं पर उपस्थित एक अन्य युवक जो सिगरेट पी रहा था उससे उसकी इस मामले पर कहासुनी हो गई जिसके बाद सिगरेट पीने वाला युवक अपने घर जाकर अपने और साथियों को बुला लाया और अंकित जा नाम के युवक को दौड़ा दौड़ा कर चाकू घोंप कर मारने की कोशिश करने लगे जिसमें अंकित झा को 6 बार चाकू से घोंपा गया अंकित स्वास्थ्य की स्थिति गंभीर बनी हुई है और अभी अस्पताल में भर्ती है।

अंकित का बयान इस लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं।

पुलिस पर लीपापोती करने का आरोप

अंकित के पिता जो कि नानपुरा के बहेरा गांव के रहने वाले हैं उनके मुताबिक उन्होंने एफ आई आर में बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा का भी उल्लेख किया था क्योंकि अंकित के ऊपर हमला उनका वीडियो देखने की वजह से किया गया था तो पुलिस ने एफ आई आर दर्ज करने से मना कर दिया था। पुलिस ने एफ आई आर से नूपुर शर्मा का नाम हटाने को कहा जिसके बाद उन्होंने एफ आई आर नूपुर शर्मा का नाम हटा दिया हालांकि इसके बाद पुलिस ने एफ आई आर दर्ज कर ली थी।

स्थानीय एसएचओ का बयान

स्थानीय एसएचओ विजय कुमार राम के मुताबिक मामले को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की जा रही हैं।अंकित के पिता के शिकायत के बाद एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए धरपकड़ की जा रही हैं। दो आरोपियों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है, जबकि मुख्य आरोपी अभी भी गिरफ्त से बाहर है उसे गिरफ्तार करने के लिए प्रयास जा रही है।

Insert Your Ads Here

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED