SIWAN EXPRESS NEWS

आपके काम कि हर खबर

Titanic Sub Tragedy: 111 साल पहले डूबी टाइटैनिक का मलबा देखने गई पनडुब्बी डूबी कैसे? जानिए ग्राफिकल वीडियो के जरिए; आखिर उस दिन हुआ क्या

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

Insert Your Ads Here

Titanic Sub Tragedy: 111 साल पहले डूबी टाइटैनिक का मलबा देखने गई पनडुब्बी डूबी कैसे? जानिए ग्राफिकल वीडियो के जरिए; आखिर उस दिन हुआ क्या

सार

  • टाइटन पनडुब्बी में सवार थे 5 लोग।
  • सभी पांचों यात्रियों की मौत हो गई।
  • टाइटैनिक का मलबा समुद्र तल से करीब 12500 फीट नीचे है।
  • समुद्र में टाइटैनिक के पास मिला पनडुब्बी के टूटे हुए टुकड़े।

Karela Benefits and Side Effects: करेले खाने के फायदे और नुकसान

विस्तार

Titanic Submersible: दशकों पहले पानी में डूबी टाइटैनिक का मलबा देखने गई एक पनडुब्बी का भी वही हश्र हुआ, जो दशकों पहले टाइटैनिक का हुआ था। जिस तरह टाइटैनिक ने वर्षों पहले जल समाधि ली थी उसी तरह उसका मलबा देखने गई एक पनडुब्बी ने भी जलसमाधि ले ली है। इस दर्दनाक हादसे में उस पनडुब्बी में सवार सभी लोगों की मृत्यु हो चुकी है, इस बात को पुष्टि अब कर दी गई है।

वहीं, यूएस कोस्ट गार्ड ने बताया कि टाइटैनिक सबमर्सिबल, जिसका नाम टाइटन है, उसके पांच चालक दल के सदस्यों के शव इस विशाल महासागर से अब कभी भी बरामद नहीं किए जा सकेंगे। मतलब कि इस पनडुब्बी में गए लोगों के शव अब कभी भी बरामद नहीं हो सकते। अटलांटिक महासागर में उनके शव सदा – सदा के लिए विलीन हो चुके हैं।

समुद्र में मिले पनडुब्बी के टूटे हुए टुकड़े

  • यूएस कोस्ट गार्ड की ओर से यह घोषणा तब हुई जब टाइटैनिक से 500 मीटर की दूरी पर पनडुब्बी के टूटे हुए टुकड़े पाए गए।
  • ओशनगेट एक्सपीडिशन द्वारा संचालित टाइटन की खोज का भयावह और विनाशकारी अंत उस समय हुआ, जब पनडुब्बी के टूटे हुए टुकड़े समुद्र तल पर मिले।

Titanic Sub Tragedy: 111 साल पहले डूबी टाइटैनिक का मलबा देखने गई पनडुब्बी डूबी कैसे? जानिए ग्राफिकल वीडियो के जरिए; आखिर उस दिन हुआ क्या

  • यूएस कोस्ट गार्ड के रियर एडमिरल जॉन माउगर के मुताबिक, पानी में संभावित एसओएस साउंड्स का पता चलने से पहले ही चालक दल के सदस्यों की मृत्यु हो चुकी थी।
  • उनके मुताबिक पनडुब्बी टाइटन के विस्फोट के बाद जो आवाज निकली है, सोनार ने उसे डिटेक्ट किया होगा।
  • ऐसा माना जा रहा है, कि भले ही उनकी तलाश में पिछले कई घंटों से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा हो।
  • लेकिन उनकी मौत टाइटैनिक का मलबा देखने के तत्काल बाद हो चुकी होगी।

मृतकों के अवशेष मिलना असंभव

  • पनडुब्बी में बैठे पांच सदस्यों की पहचान हो गई है
  • इसमें ब्रिटिश अरबपति हामिश हार्डिंग।
  • ओशनगेट के सीईओ स्टॉकटन रश।
  • फ्रांसीसी नौसेना के अनुभवी पॉल-हेनरी नार्जियोलेट।
  • पाकिस्तान के अरबपति कारोबारी शहजादा दाऊद।
  • उनके बेटे सुलेमान दाऊद इस पनडुब्बी में थे।
  • विशेषज्ञों ने कहना है कि दुर्भाग्य की बात है कि समुद्र तल के कठोर वातावरण की वजह से मृतकों के शरीर के किसी भी अवशेष के बरामद होने की कोई आशा नहीं है।

मृतकों के शरीर को खोजने में अनेकों चुनौतियां

गहरे समुद्र विशेषज्ञ पॉल हैंकिन ने मृतकों के शरीर को खोजने और पुनर्प्राप्ति के प्रयासों में आने वाली चुनौतियों के बारे में बताते हुए कहा कि “वहां का वातावरण अविश्वसनीय रूप से अक्षम्य है… मेरे पास इस समय इसकी संभावनाओं का कोई जवाब नहीं है।” उन्होंने कहा कि “लैंडिंग फ्रेम, रियर कवर और प्रेशर में टूटे टुकड़ों सहित मलबे की खोज, प्रेशर चैंबर के भयावह नुकसान का संकेत देती है।”

Lucent's General Knowledge Samanya Gyaan Hindi For 202324 ExaminationsHindi Edition | 15th Edition - 4 February 2023
Buy Now

सभी यात्रियों की मौत की पुष्टि

  • टाइटैनिक के मलबे को दिखाने का काम करने वाली कंपनी ओशनगेट द्वारा एक नोट जारी किया गया है।
  • जिसमें पनडुब्बी में सवार सभी यात्रियों की मौत की पुष्टि कर दी गई है।
  • कंपनी की ओर से मरने वालों के परिवारवालों के प्रति संवेदना व्यक्त गई है।
  • वहीं, कंपनी द्वारा मृतकों के परिवारवालों के प्रति गोपनीयता बनाए रखने का भी अनुरोध किया गया है।

वीडियो के जरिए समझिए कैसे डूबी पनडुब्बी

Bitter Truth News द्वारा जारी किए गए एक वीडियो में ये समझाया गया है, कि आखिरकार ये पनडुब्बी डूबी कैसे होगी।

  • इस वीडियो के अनुसार, टाइटैनिक जहाज का मलबा समुद्र तल में 12 हजार फीट अर्थात् करीब 3657 मीटर पड़ा हुआ है।
  • वहीं, उसे देखने के उद्देश्य से यात्रियों के साथ टाइटन पनडुब्बी समुद्र में उतरती है।
  • पनडुब्बी धीरे धीरे उस गहरे समुद्र में उतरती जाती है।
  • एक हजार, 2 हजार, 3 हजार फीट… ऐसा करते हुए पनडुब्बी पानी के अंदर उतरती जाती है।
  • जिसके बाद वह 12 हजार फीट अर्थात समुद्र में साढ़े 3 किलोमीटर नीचे तक पहुंच जाती है।
  • जहां टाइटैनिक जहाज दशकों पहले डूबकर समुद्र की अनंत गहराइयों में मलबे के रूप में पड़ा हुआ है।

रिपोर्ट की माने तो, जब टाइटन पनडुब्बी समुद्र में डूबी तो वो समुद्र तल से तकरीबन 12500 फीट अर्थात 3810 मीटर नीचे थी। एक्सपर्ट्स की बात माने तो समुद्र के अंदर तीव्र दबाव के कारण पनडुब्बी फट गई होगी।

Insert Your Ads Here

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED

Skip to content