SIWAN EXPRESS NEWS

आपके काम कि हर खबर

||

Angry PM Modi: आखिर क्यों हैं पीएम मोदी अपने एक चाहते नेता से नाराज़…..?

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on linkedin
Share on telegram

Insert Your Ads Here

Angry PM Modi: आखिर क्यों हैं पीएम मोदी अपने एक चाहते नेता से नाराज़…..?

सार

  • पीएम मोदी अपने एक बड़े ही प्रिय नेता से नाराज़ हो गए।
  • वह नेता बिहार से जुड़े एक पूर्व कैबिनेट मंत्री कानूनी मामलों के विशेषज्ञ माने जाते हैं।
  • वह अपने बेटे को हाई कोर्ट के जज के पद पर कार्यरत देखना चाहते थे।
  • मंत्री जी को मंत्रिमंडल से निष्कासित कर दिया गया।
  • मंत्रीजी एक बार फिर से सक्रियमोदी मंत्रिमंडल में लॉबिंग में शामिल होने में लगे हुए हैं।

https://siwanexpress.com/admission-process-will-start-bhu-school/

विस्तार

आजकल राजनैतिक गलियारों में एक बड़ी चर्चा चल रही है। जिसमें सूत्रों द्वारा जानकारी सामने आ रही है कि पीएम मोदी अपने एक बड़े ही प्रिय नेता से नाराज़ हो गए हैं।

यह मंत्री कभी पीएम मोदी के बेहद खास हुआ करते थे। बिहार से जुड़े एक पूर्व कैबिनेट मंत्री कानूनी मामलों के विशेषज्ञ माने जाते हैं ये पूर्व कैबिनेट मंत्री।

मंत्रीजी अपने कैबिनेट के पद पर रहते हुए अपने बेटे को हाई कोर्ट के जज के पद पर कार्यरत देखना चाहते थे।

Angry PM Modi: आखिर क्यों हैं पीएम मोदी अपने एक चाहते नेता से नाराज़.....?

जिसके लिए पटना हाईकोर्ट द्वारा सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम को मंत्री जी के बेटे की फाइल को भेजा गया था। किंतु इस विषय में प्रधानमंत्री कार्यालय को जरा भी भनक नहीं थी। जब इस बात की सूचना क़ानून मंत्रालय को मिली तो उन्होंने पीएमओ को इस बारे में बताया।

जिसके बाद, मंत्रीजी को प्रधानमंत्री कार्यालय में बुलाया गया और इसके पश्चात मंत्री जी को मंत्रिमंडल से निष्कासित कर दिया गया।

https://sarkaridada.com/2023/02/22/bihar-bpsc-assistant-exam-date-2023/

पूर्व कैबिनेट मंत्री सक्रियमोदी मंत्रिमंडल में आने के लिए फिर से जुटे

अब केंद्रीय मंत्रिमंडल में एक बड़े फेरबदल की खबर के पश्चात पूर्व कैबिनेट मंत्रीजी एक बार फिर से सक्रियमोदी मंत्रिमंडल में लॉबिंग में शामिल होने के लिए जुट गए हैं।

सूत्रों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, मंत्रीजी सक्रियमोदी मंत्रिमंडल में लॉबिंग के लिए RSS के बड़े नेताओं से भी मुलाकात की है।

जिसके लिए RSS के एक नेता द्वारा PMO तक पूर्व मंत्री को मुख्य धारा में लाने का संदेश भेजा गया किंतु प्रधानमंत्री द्वारा इस बात के लिए साफ इनकार कर दिया गया है।

Insert Your Ads Here

FOLLOW US

POPULAR NOW

RELATED

Skip to content